बंद करे

कृषि

विभाग किसान कल्याण और कृषि विकास
कार्यालय उप संचालक कृषि राजगढ़
कार्यालय का पता एसपी कार्यालय के सामने, केंद्रीय विद्यालय राजगढ़ के पीछे
कार्यालय ई-मेल ddagriraj@mp.gov.in
कार्यालय का फोन
अधिकारी का नाम हरीश कुमार मालवीय
अधिकारी मोबाइल

योजनाओ के लिये आवेदन

क्रमांक योजना का नाम /(वेबसाइट/लिंक) आवेदन का प्रकार (ऑनलाइन/ऑफ़लाइन) रिमार्क
(कोई अन्य विवरण)
मोबाइल एप्लिकेशन
डाउनलोड लिंक
1 ई-कृषि यंत्र अनुदान ऑनलाइन कृषि उपकरण अनुदान पर लेने हेतु आवेदन e-कृषियंत्र सेवा
2 प्रधान मंत्री कृषि सिचाई योजना ऑनलाइन कृषि सिंचाई उपकरण अनुदान पर लेने हेतु आवेदन e-कृषियंत्र सेवा
3 बलराम तालाब ऑनलाइन बलराम तालाबअनुदान पर बनवानेहेतु आवेदन e-कृषियंत्र सेवा
4 लोकसेवा गारंटी मध्य प्रदेश ऑनलाइन उर्वरक, कीटनाशक एवं बीज लाइसेंस के आवेदन एमपी मोबाइल
5 सी.एम. हेल्पलाइन ऑनलाइन कृषको द्वारा विभागीय योजनाओ से सम्बंधित समस्याओ हेतु मोबाइलसे 181 पर कॉल करने पर शिकायत का निराकरण सी.एम. हेल्पलाइन
6 प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना ऑनलाइन प्रधान मंत्री फसल बीमा योजना (पीएमएफबीवाई) सरकार (कृषि और किसान कल्याण मंत्रालय) प्रायोजित फसल बीमा योजना है
7 उर्वरक और कीटनाशक लाइसेंस ऑनलाइन उर्वरक एवं कीटनाशक के विनिर्माण लायसेंस हेतु आनलाईन आवेदन
8 माइक्रो सिचाई ऑनलाइन माइक्रो सिचाई/उद्यानिकी उपकरण – उद्यानिक एवं खाद्य प्रसंस्करण विभाग-ऑनलाइन आवेदन

योजनाओ की प्रगति

क्रमांक योजना का नाम /(वेबसाइट/लिंक) सार्वजनिक डोमेन/ लॉगिन आधारित रिमार्क
(कोई अन्य विवरण)
मोबाइल एप्लिकेशन
डाउनलोड लिंक
1 ई-कृषि यंत्र अनुदान सार्वजनिक डोमेन/ लॉगिन आधारित कृषि  उपकरण अनुदान पर लेने हेतु आवेदन e-कृषियंत्र सेवा
2 प्रधान मंत्री कृषि सिचाई योजना सार्वजनिक डोमेन/ लॉगिन आधारित कृषि सिंचाई उपकरण अनुदान पर लेने हेतु आवेदन e-कृषियंत्र सेवा
3 बलराम तालाब सार्वजनिक डोमेन/ लॉगिन आधारित बलराम तालाबअनुदान पर बनवाने हेतु आवेदन e-कृषियंत्र सेवा
4 लोकसेवा गारंटी मध्य प्रदेश सार्वजनिक डोमेन/ लॉगिन आधारित उर्वरक, कीटनाशक एवं बीज लाइसेंस के आवेदन एमपी मोबाइल
5 सी.एम. हेल्पलाइन सार्वजनिक डोमेन/ लॉगिन आधारित कृषको द्वारा विभागीय योजनाओ से सम्बंधित समस्याओ हेतु मोबाइलसे 181 पर कॉल करने पर शिकायत का निराकरण सी.एम. हेल्पलाइन
6 प्रधानमंत्री फ़सल बीमा योजना  सार्वजनिक डोमेन/ लॉगिन आधारित प्रधानमंत्री फ़सल बीमा योजना कृषि एवं किसान कल्याण मंत्रालय भारत  शासन की योजना है , फसल बीमा एक एकीकृत आईटी समाधान और सेवा वितरण में तेजी लाने के लिए एक वेब-आधारित पारिस्थितिकी तंत्र है, यह एक  एकीकृत प्रणाली है जो  मैन्युअल प्रक्रियाओं को समाप्त करता है। फसल बीमा किसानों को पहले की तुलना में तेजी से बीमा सेवाएं प्रदान करता है।
7 एगमार्कनेट  पोर्टल सार्वजनिक डोमेन

एगमार्कनेट  पोर्टल कृषि विपणन से संबंधित विभिन्न संगठनों की वेबसाइटों के आकलन के लिए एकल खिड़की के रूप में भी कार्य करता है। यह प्रमुख कृषि जिंसों के संबंध में महत्वपूर्ण बाजारों के लिए साप्ताहिक मूल्य प्रवृत्ति रिपोर्ट भी प्रदान करता है। यह महत्वपूर्ण वस्तुओं के लिए स्पॉट और भविष्य की कीमतें प्रदान करने के लिए ऑनलाइन एक्सचेंज पोर्टल्स के साथ जुड़ा हुआ है। इस पोर्टल के माध्यम से विभिन्न कृषि जिंसों के अंतर्राष्ट्रीय मूल्य रुझान भी सुलभ हैं।

मूल्‍य और आवक के संबंध में पूछताछ (दैनिक रिपोर्ट)

साप्‍ताहिक / मासिक विश्‍लेषण रिपोर्ट

मोबाइल एप्लिकेशन डाउनलोड करें
8 पीएम- किसान सम्मान निधि  सार्वजनिक डोमेन

पीएम- किसान सम्मान निधि भारत सरकार से 100% वित्त पोषण के साथ एक केंद्रीय क्षेत्र की योजना है , यह 1-12-2018 से चालू हो गई है। योजना के तहत तीन समान किस्तों में रु .6000 / – प्रति वर्ष की आय सहायता दी जाएगी ,राज्य सरकार उन किसान परिवारों की पहचान करेगी जो योजना के दिशा-निर्देशों के अनुसार समर्थन के पात्र हैं। फंड सीधे लाभार्थियों के बैंक खातों में स्थानांतरित किया जाएगा।

पीएम-किसान हेल्पलाइन नंबर 155261/1800115526 (टोल फ्री), 011-23381092

दिशानिर्देश

लाभार्थी की स्थिति जानें (आधार नंबर/ खाता संख्या /मोबाइल नंबर से )

स्वीकृत लाभार्थी सूची

स्व पंजीकृत / सीएससी किसान की स्थिति

आधार विवरण अपडेट करें

9 फार्मर पोर्टल ऑफ इंडिया  सार्वजनिक डोमेन भारतीय किसान इस तथ्य के बावजूद कि लाखों लोग सीमांत और छोटे किसान हैं, उत्पादन और उत्पादकता में किसी से पीछे नहीं हैं. वे विकसित देशों के किसानों की तरह कुशलतापूर्वक उन्नत कृषि तकनीक को अपनाते हैं. यह महसूस किया गया है कि उर्वरक, बीज, कीटनाशक जैसे इनपुट की समय पर और पर्याप्त व्यवस्था करने और किफायती कृषि ऋण/फसल बीमा उपलब्ध कराने पर भारतीय किसान देश के लिए खाद्य एवं पोषण सुरक्षा सुनिश्चित करने में सक्षम हैं. आईटी विभाग द्वारा लिए प्रदान की मौजूदा वितरण चैनलों के पूरक के लिए, सूचना और संचार प्रौद्योगिकी के उपयोग के माध्यम से कृषक समुदाय और निजी क्षेत्र के लिए उपलब्ध प्रासंगिक सूचना और सेवाओं बनाने की परिकल्पना की गई है। किसान पोर्टल कृषि, पशुपालन और मत्स्य क्षेत्रों उत्पादन, बिक्री / एक भारतीय किसान के भंडारण से संबंधित सभी सूचना के जरूरतों को पूरा करने के लिए एक बंद दुकान बनाने के लिए इस दिशा में एक प्रयास है।

एक बार जब किसान पोर्टल, एक किसान अपने गांव / ब्लॉक / जिला या राज्य के चारों ओर विशिष्ट विषयों पर सभी प्रासंगिक जानकारी प्राप्त करने में सक्षम हो जाएगा।यह जानकारी, एसएमएस, ईमेल और ऑडियो / वीडियो पाठ के रूप में वह या वह की भाषा में समझने के लिये वितरित किया जाएगा।

10 एम किसान पोर्टल ऑफ इंडिया  सार्वजनिक डोमेन इंटरनेट की सुविधा के बिना भी, मोबाइल फोन द्वारा किसानों को अपनी आवश्यकता के अनुसार लिखित/मोखिक जानकारी व परामर्श प्राप्त करने व किसान तक  पहुँचने की सुविधा
11 ई-नाम (राष्ट्रीय कृषि बाजार) सार्वजनिक डोमेन राष्ट्रीय कृषि बाजार या ई-नाम भारत में कृषि वस्तुओं के लिए एक ऑनलाइन ट्रेडिंग प्लेटफॉर्म है। बाजार किसानों, व्यापारियों और खरीदारों को वस्तुओं में ऑनलाइन ट्रेडिंग की सुविधा प्रदान करता है। बाजार बेहतर कीमत की खोज में मदद कर रहा है और उनकी उपज के सुचारू विपणन के लिए सुविधाएं प्रदान कर रहा है

किसान
मैं ई-नाम पर पंजीकरण कैसे करूँ?
ई-नाम मंडी में पंजीकरण की प्रक्रिया क्या है?
फीस और दस्तावेज क्या आवश्यक हैं?
किसान के लिए लाभ क्या हैं?
मुझे बेहतर मूल्य कैसे मिलेगा?
मुझे अपनी उपज के लिए पैसे कैसे प्राप्त होंगे?
मेरी उपज को बेचने में कितना समय लगता है?

व्यापारी
मैं कैसे पंजीकरण करूं?
फीस और दस्तावेज क्या आवश्यक हैं?
व्यापारियों के लिए क्या लाभ हैं?
मुझे बेहतर गुणवत्ता वाली उपज कैसे मिल सकती है?
मुझे विक्रेता को कैसे भुगतान करना चाहिए?
ट्रेडिंग के तरीके क्या हैं?

डाउनलोड मोबाइल एप्लिकेशन
डाउनलोड उपयोगकर्ता पुस्तिका (मोबाइल ऐप)

ई-नाम हेल्प डेस्क नं .: 1800 270 0224

मोबाइल ऐप डाउनलोड करें
12 किसान कॉल सेंटर कृषि संबंधित समस्याओं के समाधान हेतु

निःशुल्क नं. 1800 180 1551 पर संपर्क करें

13 विभागीय वैबसाइट किसान कल्याण तथा कृषि विकास विभाग मध्य प्रदेश

 

संपर्क सूत्र

उपसंचालक कृषि

एसपी कार्यालय के सामने, केंद्रीय विद्यालय राजगढ़ के पीछे

ई -मेल  : ddagriraj[at]mp[dot]gov[dot]in